पिता-पुत्र ने एक-दूसरे का हाथ थामा, फिर ट्रेन के सामने लेट गए

News Desk
By News Desk भारत 15 Views
2 Min Read
Father and son held each other's hands, then lay down in front of the train

महाराष्ट्र से एक बेहद दुखद घटना सामने आई है। एक पिता और उसके बेटे ने एक ट्रेन के सामने लेट कर आत्महत्या कर ली। यह घटना उस समय की है जब वे दोनों रेल की पटरी पर हाथ पकड़कर लेट गए और धीमी रफ्तार से आती ट्रेन ने उन्हें कुचल दिया। मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। प्रारंभिक जांच में पुलिस को इस आत्महत्या के पीछे का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है।  पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और घटना की जांच कर रही है।

घटना का एक परेशान करने वाला वीडियो सामने आया है। यह घटना मुंबई से करीब 32 किलोमीटर दूर भयंदर रेलवे स्टेशन की है। वीडियो में देखा जा सकता है कि पिता और पुत्र प्लेटफॉर्म पर टहलते हुए एक-दूसरे से बात कर रहे थे, इसी दौरान एक ट्रेन प्लेटफॉर्म को पार कर रही थी। जब पिता-पुत्र चलते-चलते प्लेटफॉर्म के अंत में पहुंचते हैं तो वे दोनों नीचे पटरियों पर उतर जाते हैं। 

हाथों में हाथ डालकर, दोनों ट्रैक पार करते हुए दिखाई देते हैं और फिर जैसे ही ट्रेन उनके पास आती दिखती है वे दोनों ही ट्रैक पर लेट जाते हैं। कुछ सेकंड बाद, ट्रेन उन्हें कुचल देती है। यह घटना सोमवार को सुबह करीब 10.30 बजे भायंदर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 6 पर हुई, जब पालघर जिले के भायंदर स्टेशन से एक लोकल ट्रेन रवाना हो रही थी।

ट्रेन विरार से चर्चगेट जा रही थी। पीड़ितों की पहचान जय मेहता (35) और उनके पिता हरीश मेहता (60) के रूप में हुई है। दोनों नालासोपारा के निवासी थे। आत्महत्या के पीछे का कारण अभी पता नहीं चल पाया है और पुलिस ने दुर्घटना से मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Share This Article